फोन स्क्रीन को वायरस-फ्री बनाने के तरीके, खुद बचें, परिवार को भी बचाएं

0
23

[ad_1]

नई दिल्ली. स्मार्टफोन, टैबलेट्स, लैपटॉप या अन्य गैजेट्स का हम लोग खूब इस्तेमाल करते हैं. कोविड-19 के बाद लगे लॉकडाउन ने तो मानो हमें गैजेट्स का गुलाम बना दिया है. इनके बिना एक मिनट भी निकाल पाना संभव नहीं. ऐसे में बहुत सारे खतरे भी बने रहते हैं. हमारे स्मार्टफोन्स समेत सभी गैजेट्स की सतहें (सर्फेस) किसी भी वक्त संक्रमित हो सकती हैं. संक्रमित से मतलब सिर्फ कोरोना वायरस से संक्रमित होना ही नहीं है. इनकी सतहों पर जमने वाली धूल, मैल, किटाणु इत्यादी किसी भी स्वस्थ इंसान को बीमार करने के लिए काफी हैं. ऐसे में बेहद जरूरी है कि गैजेट्स को साफ-सुथरा और रोगाणुमुक्त (Disinfected) रखा जाए. लेकिन ज्यादातर लोगों को ये नहीं पता है कि स्मार्टफोन को डिस्इनफेक्ट कैसे करें (How to disinfect Smartphone)? इस लेख में आप जान पाएंगे कि ये कैसे करना है.

अब आप ये तो समझ गए हैं कि फोन को संक्रमण-रहित रखना चाहिए. लेकिन ये जानना भी जरूरी है कि कहां-कहां से वायरस आप तक पहुंच सकता है. आपको याद होगा वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) ने कोरोना की शुरुआत में बताया था कि हमें अपने कपड़े, जूते, बाजार से लाई गई कोई भी चीज, सब्जियां इत्यादी घर में प्रवेश करने से पहले सैनेटाइज करने चाहिएं. इसलिए आपको अपने गैजेट्स, खासकर मोबाइल फोन, को डिस्इनफेक्ट करना चाहिए यदि-

  • आप घर से बाहर जाकर वापस आए हैं.
  • यदि आप एक दुकान पर काम करते हैं.
  • यदि आप ऑफिस से घर आए हैं.
  • यदि आपने पब्लिक टॉयलेट इस्तेमाल किया है.
  • यदि आप पब्लिक ट्रांसपोर्ट, जैसे कि बस, ट्रेन इत्यादी से सफर कर रहे हैं.
  • यदि आप पब्लिक डिलिंग का काम करते हैं.

उपरोक्त सभी कंडीशन्स में से यदि कोई भी कंडीशन आप पर लागू होती है तो आपको अपने गैजेट्स को सैनेटाइज करना चाहिए. नहीं करने पर आपके साथ आपके परिवार का कोई सदस्य भी बीमार हो सकता है.

ये भी पढ़ें – Xiaomi 12 में होगा दुनिया का पहला Snapdragon 898 प्रोसेसर, 120W की फास्ट चार्जिंग

गैजेट्स को संक्रमण-रहित कैसे करें?

धूल-मिट्टी या मैल को हटाएं
सबसे पहले आपको अपने डिवाइस से धूल, मिट्टी या फिर मैल हटानी चाहिए. स्मार्टफोन की स्क्रीन हो या लैपटॉप की स्क्रीन, साफ करने के लिए आपको सूखा और सॉफ्ट माइक्रोफाइबर का इस्तेमाल करना चाहिए. आपको इसे टिश्यू या फिर पेपर टॉवल का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, क्योंकि इनकी वजह से स्क्रीन पर स्क्रैच आने का खतरा रहता है.

डिवाइस पर स्प्रे न करें सैनेटाइज़र
आपने अपने डिवाइस की डिस्इन्फेक्ट करने के लिए एल्कोहल से बना सैनेटाइज़र का इस्तेमाल करना चाहिए. बाजार में कुछ प्रॉडक्ट्स केवल डिवाइसेज़ को संक्रमण-रहित बनाने के लिए भी आते हैं, जिनका आप इस्तेमाल कर सकते हैं. इसका इस्तेमाल करते समय आपको हमेशा ये ध्यान रखना चाहिए कि इसे डिवाइस पर स्प्रे (Spray) न करें. स्प्रे करने पर लिक्विड डिवाइस के अंदर जा सकता है और डिवाइस को नुकसान पहुंचा सकता है.

ये भी पढ़ें – WhatsApp पर आ रहा है नया फीचर! ग्रुप एडमिन को मिलेगी पहले से ज़्यादा पावर-रिपोर्ट

जब भी आपको अपने डिवाइस को साफ करना हो तो एक सॉफ्ट कपड़ा लें और उस पर कम से कम 70 प्रतिशत एल्कोहल वाला डिसइन्फेक्टेंट (Disinfectant) डालें. आप क्लॉरोक्स डिसइन्फेक्टेंट (Clorox disinfectant) का इस्तेमाल भी कर सकते हैं. अब गीले कपड़े से अपने डिवाइस को पोंछें.

चार्जर हटाकर करें साफ
अपने डिवाइस को साफ करने समय आपको चार्जर हटा देना चाहिए. यदि सैनेटाइज़ करते समय जरा-सी नमी (Moisture) भी अंदर गई तो आपके डिवाइस को नुकसान हो सकता है.

कवर को कैसे साफ करें
सिर्फ स्क्रीन ही नहीं, डिवाइस का कवर भी वायरस ला सकता है. इसलिए अपने फोन कवर को भी साफ करें. उसे साफ करने के लिए आपको साबुन और गर्म पानी का इस्तेमाल करना चाहिए. पानी बहुत ज्यादा गर्म भी न हो. कवर को साफ करने के लिए इसे फोन से हटाएं और फिर पानी और साबुन की मदद से धो दें.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here