Metaverse पर तेजी से काम कर रही Facebook, जानिए क्या है ये और कैसे करेगा काम

0
66

[ad_1]

अगर आपसे पूछा जाए कि क्या कोई इंसान एक ही वक्त में कई जगह हो सकता है तो शायद आपका जवाब होगा नहीं. लेकिन आज विज्ञान और तकनीक ने इतनी तरक्की कर ली है कि ये कहीं हद तक मुमकिन हो सकता है. जी हां, बिल्कुल मैट्रिक्स जैसी किसी फिल्मी सीन की तरह और ये सब कुछ हो सकता है आपके फेसबुक, व्हाट्सऐप, इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए ये संभव हो सकता है. 

क्या है मेटावर्स?
दरअसल फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग ने दुनिया के सामने जो रोड मैप रखा है उससे कुछ ही सालों में ऐसा होने लगेगा कि लोग अपने कमरे में बैठ कर एक साथ कई जगहों पर अलग अलग अवतार के जरिए अलग अलग काम कर सकते हैं. इंटरनेट की इस नई दुनिया को मेटावर्स का नाम दिया गया है. मेटावर्स तकनीक का ऐसा ब्रह्मांड जिसमें आभासी तौर पर इंसान उन जगहों पर मौजूद हो सकता है, जिसे वर्चुअल एंड ऑगमेंटेड रियलिटी यानी संवर्धित वास्तविकता के जरिए हासिल किया जा सके. वैसे तो वीडियो गेम्स में इस तर्ज पर काफी काम हो चुका है, लेकिन सोशल मीडिया के जरिए आम लोगों की दुनिया में इसके दाखिल होने की प्रक्रिया को लेकर काफी चर्चा हो रही है.

तेजी से हो रहा काम
फेसबुक के इस मेटावर्स को आने में पांच से से 15 साल तक लग सकते हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि मेटावर्स तक पहुंचने में हमें और आपको भी इतने सालों का ही इंतजार करना पड़ेगा. फेसबुक तेजी से इस प्रक्रिया को अमल में लाने के लिए आगे बढ़ रहा है और इसके लिए उसने कुछ कंपनियों के साथ करार भी किया है. पिछले ही महीने फेसबुक ने होराइजन वर्करूम्स एप लॉन्च भी किया है जिसके जरिए लोग अलग अलग जगहों पर रहते हुए एक वर्क रूम में काम काम कर सकते हैं. एक दूसरे के साथ आइडियाज और काम शेयर कर सकते हैं बिल्कुल उसी तर्ज पर जैसे कि वो करते अगर ऑफिस में आस पास मौजूद होते हैं.

नई दुनिया की कल्पना कर रहा फेसबुक
मेटावर्स के तौर पर फेसबुक एक ऐसी दुनिया की कल्पना कर रहा है जिसमें लोग एक साथ काम कर सकें, एक दूसरे से मिल सकें, बिजनेस कर सकें, खेल सकें लेकिन इन सबके लिए जिस स्तर के तकनीक की जरूरत होगी और जिस तर्ज पर प्राइवेसी को लेकर लोगों के विश्वास और भरोसे को साथ लेने की जरूरत होगी, उसे पैदा करने के लिए कंपनी को काफी काम करना पड़ेगा और आने वाले वक्त में गौर करने वाली बात ये होगी कि क्या फेसबुक वाकई खुद को उस लायक साबित सकता है तकनीक में भी और भरोसे में भी. 

ये भी पढ़ें

Tips: अगर आप भी अपनी PDF फाइल को Word में करना चाहते हैं कनवर्ट तो यहां जानें सबसे आसान तरीका

Tips: Gmail में ऐसे शेड्यूल कर सकते हैं E-Mail, जानें स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here