Instagram कम उम्र वालों के लिए है बेहद खतरनाक और यह बात फेसबुक को भी है पता, जानिए क्यों?

0
8


नई दिल्ली. अगर आपके बच्चे भी इंस्टाग्राम (Instagram) का इस्तेमाल करते हैं तो आपको बेहद अलर्ट रहने की जरूरत है. ऐसा इसलिए क्योंकि इंस्टाग्राम बच्चों को मानसिक तौर पर बीमार कर रहा है और वह डिप्रेशन के शिकार हो रहे हैं. इसका खुलासा फेसबुक के इंटरनल स्टडी में हुआ है. बता दें कि इंस्टाग्राम फेसबुक (Facebook) की ही स्वामित्व वाली फोटो और वीडियो-शेयरिंग ऐप है.

वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के अनुसार, फेसबुक के स्टडी में यह पाया गया है कि इंस्टाग्राम ऐप किशोरों के लिए हानिकारक है. जर्नल ने पिछले तीन वर्षों में फेसबुक के अध्ययनों का हवाला देते हुए लिखा है कि इंस्टाग्राम अपने यंग यूजर्स बेस को किस तरह से प्रभावित कर रहा है. इसमें सबसे अधिक प्रभावित कम उम्र की लड़कियां हो रही हैं. फेसबुक की रिपोर्ट के अनुसार, इंस्टाग्राम कम उम्र के बच्चों को इस तरह प्रभावित कर रहा है कि उन्हें आत्महत्या तक के ख्याल आने लगते हैं. करीब 13% ब्रिटिश यूजर्स और 6% अमेरिकी यूजर्स ने इंस्टाग्राम पर इसको सर्च भी किया है.

सुंदर दिखने के चक्कर में बीमार होते हैं बच्चे
रिपोर्ट के अनुसार, 32 फीसदी किशोर लड़कियों ने कहा कि इंस्टाग्राम उन्हें बाॅडी को लेकर काफी बुरा महसूस कराता है. फेसबुक ने कथित तौर पर यह भी पाया कि अमेरिका में 14% लड़कों ने कहा कि इंस्टाग्राम ने उन्हें अपने बारे में बुरा महसूस कराया है. सोशल मीडिया कंपनी ने जिन विशेषताओं को सबसे हानिकारक के रूप में पहचाना है उसमें सबसे प्रमुख मेकअप है. यानी कम उम्र के बच्चे इंस्टाग्राम पर सुंदर चाहती है और अगर ऐसा नहीं होता तो वे डिप्रेस्ड हो जाती है. इंस्टाग्राम हर 3 में से 1 लड़की में बॉडी इमेज की समस्या को बदतर बनाता है.

रिपोर्ट के अनुसार, शोधकर्ताओं ने इंस्टाग्राम के एक्सप्लोर पेज को चेतावनी दी है जो यूजर्स को कई तरह के अकाउंट से क्यूरेट पोस्ट करता है. यूजर्स को ऐसी चीजों को लेकर आकर्षित कर रहा है जो उनके लिए हानिकारक हो सकती है. ऐप में केवल बेहतरीन तस्वीरें और तुरंत पोस्ट करने की फीचर्स भी है जो कम उम्र वालों के लिए एक नशे की लत की तरह है.

ये भी पढ़ें- EPFO पोर्टल पर आसानी से कर सकते हैं ऑनलाइन PF ट्रांसफर, जानिए क्या है तरीका?

कम उम्र के बच्चों के लिए बनेगा इंस्टाग्राम का नया वर्जन
फेसबुक के शीर्ष अधिकारियों ने शोध की समीक्षा की है. पिछले साल सीईओ मार्क जुकरबर्ग ()को दी गई एक प्रस्तुति में इसका हवाला दिया गया था. फिर भी, फेसबुक ने कथित तौर पर यूजर्स को इंगेज रखने और प्लेटफाॅर्म पर आने के लिए आकर्षित करता रहता है. बता दें कि फेसबुक 13 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए इंस्टाग्राम का एक वर्जन भी बना रहा है. हाल ही में यह खबर आई थी कि फेसबुक इंस्टाग्राम के एक नए वर्जन पर काम कर रही है, जो केवल 13 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए होगा. कंपनी ने कहा था कि किशोरों के लिए सबसे सुरक्षित एक्सपीरियंस के साथ इंस्टाग्राम का नया वर्जन आएगा.

ये भी पढ़ें- Flipkart पर पैसा कमाने का मौका! हर महीने होगी ₹80 हजार तक की कमाई, जानिए कैसे?

कंपनी ने टीनएजर्स के लिए भी नई पॉलिसी पेश की हैं
इंस्टाग्राम बच्चों की सुरक्षा के लिए गंभीरता से कदम उठा रही है. हाल ही में कंपनी ने टीनएजर्स को अनजान और संदिग्ध वयस्कों से सुरक्षित रखने के लिए भी कई कड़े सुरक्षा कदम उठाए हैं. इंस्टाग्राम ने नई पॉलिसियां पेश की हैं, जिससे वयस्क यूजर्स के लिए एक टीनएजर्स के संपर्क में रहना मुश्किल हो जाएगा यदि वह टीनएजर्स द्वारा फॉलो नहीं किए जा रहे हैं तो कंपनी ने कई ऐसे फीचर्स भी पेश किए जो टीनएजर्स को उनके संपर्क में रहने के लिए वयस्क यूजर के संदिग्ध व्यवहार के बारे में अलर्ट करेगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here